1125 HAIGAS PUBLISHED TILL TODAY(04.09.15)......आज तक(04.09.15) 1125 हाइगा प्रकाशित Myspace Scrolling Text Creator

यदि आप अपने हाइकुओं को हाइगा के रूप में देखना चाहते हैं तो हाइकु ससम्मान आमंत्रित हैं|

रचनाएँ hrita.sm@gmail.comपर भेजें - ऋता शेखर मधु

Tuesday, 23 October 2012

विजयादशमी - हाइगा में

अपने मन के भीतर छुपे रावण को जलाएँ|
इसी संकल्प के साथ विजयादशमी मनाएँ|
देखते हैं हाइगा में कुछ घटनाक्रम


















सारे चित्र गूगल से साभार

7 comments:

travel ufo said...

वाह क्या बढिया बात है बढिया हाइगा

ANULATA RAJ NAIR said...

वाह ऋता जी.......
कमाल की पोस्ट...
पूरी रामायण समेट ली आपने नन्हें से हायकू में..

बहुत सुन्दर!!!

स्नेह और ढेर सारी खुशियों की कामना...
अनु

Unknown said...

पूरी रामायण बढिया हाइगा

Kailash Sharma said...

बहुत खूब! लाज़वाब हाइगा..दशहरा की हार्दिक शुभकामनायें!

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार said...

.


आनंद वर्षा !
भीग गया हृदय !!
श्रेष्ठ हाइकु …



आभार एवं बधाई सहित मंगलकामनाएं …

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार said...

.

ஜ▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
♥~*~विजयदशमी की हार्दिक बधाई~*~♥
ஜ▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ

प्रवीण कुमार श्रीवास्तव said...

वाह! अति सुंदर हाइगा