1125 HAIGAS PUBLISHED TILL TODAY(04.09.15)......आज तक(04.09.15) 1125 हाइगा प्रकाशित Myspace Scrolling Text Creator

यदि आप अपने हाइकुओं को हाइगा के रूप में देखना चाहते हैं तो हाइकु ससम्मान आमंत्रित हैं|

रचनाएँ hrita.sm@gmail.comपर भेजें - ऋता शेखर मधु

Wednesday, 17 April 2013

प्रेम के कुछ एहसास-हाइगा में

प्रकृति का वरदान
प्रेम का एहसास
निश्छल प्यार






14 comments:

dilbag virk said...

आपकी यह प्रस्तुति कल के चर्चा मंच पर है
कृपया पधारें

धीरेन्द्र सिंह भदौरिया said...

प्रेम का एहसास निश्छल प्यार,,,
वाह वाह !!! बहुत ही बेहतरीन सुंदर हईगा के लिए ,बहुत बहुत बधाई ऋतू जी,

बहुत दिनों से आप मेरे पोस्ट पर नही आई,आइये स्वागत है,,,

RECENT POST : क्यूँ चुप हो कुछ बोलो श्वेता.

ANULATA RAJ NAIR said...

उड़ता प्रेम आकाश में.....
बहुत ही सुन्दर ऋता दी...

सस्नेह
अनु

राजेश सिंह said...

एक नई विधा की जानकारी मिली धन्यवाद

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत सुंदर

Anita Lalit (अनिता ललित ) said...

कितने प्यारे-प्यारे..क्यूट से चित्र और भावपूर्ण रचनाएँ... :)))
बहुत सुंदर हाइगा ऋता जी!
~सादर!!!

Pratibha Verma said...

बहुत सुन्दर....बेहतरीन प्रस्तुति !!
पधारें बेटियाँ ...

Guzarish said...

वह वह आनंद आ गया हाइगा कि जानकारी पड़कर और सुंदर तस्वीरे देख कर
बधाई ऋतू
गुज़ारिश : ''यादें याद आती हैं.....''

Unknown said...

प्रकृति और पखेरुओं का सम्मोहक मिलन हाइगा में ....

रश्मि शर्मा said...

खूबसूरत चि‍त्र के साथ मनमोहती पंक्‍ति‍यां

दिगंबर नासवा said...

प्रेम को कुछ ही शब्दों ओर चित्रों में बाँधने का प्रयास ... बहुत लाजवाब हैं सभी हाइगा ...

Kailash Sharma said...

बहुत ख़ूबसूरत हाइगा...

Ravi Ranjan said...

प्रेम के अनेक खूबसूरत रूप देखने को मिले|लाजवाब....

Maheshwari kaneri said...

प्रेम का सुंदर एहसास ..