1125 HAIGAS PUBLISHED TILL TODAY(04.09.15)......आज तक(04.09.15) 1125 हाइगा प्रकाशित Myspace Scrolling Text Creator

यदि आप अपने हाइकुओं को हाइगा के रूप में देखना चाहते हैं तो हाइकु ससम्मान आमंत्रित हैं|

रचनाएँ hindihaiga@gmail.com पर भेजें - ऋता शेखर मधु

Saturday, 15 February 2014

धूप खिली है - हाइगा में

आज हमारे साथ जुड़ रही हैं सुपरिचित हाइकुकार आदरणीया सीमा स्मृति जी...धूप का आना...पंछियों का चहचहाना...इसी विषय पर देखते हैं उनके सुन्दर हाइकु हाइगा की नजर से|
हाइकु भेजने के लिए सीमा जी का हार्दिक आभार|








सारे चित्र गूगल से साभार

6 comments:

सीमा स्‍मृति said...

ऋता शेखर मधु जी कमाल के हाइगा बनें हैं। जैसे हाइकुओं को पंख लग गए । वास्‍तव में आपकी मेहनत से यूं हाइकु में एक अजब सजीवता आ गई।
हार्दिक हार्दिक धन्‍यवाद ।

सीमा स्‍मृति said...

ऋता शेखर मधु जी कमाल के हाइगा बनें हैं। जैसे हाइकुओं को पंख लग गए । वास्‍तव में आपकी मेहनत से यूं हाइकु में एक अजब सजीवता आ गई।
हार्दिक हार्दिक धन्‍यवाद ।

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
--
आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज रविवार (16-02-2014) को वही वो हैं वही हम हैं...रविवारीय चर्चा मंच....चर्चा अंक:1525 में "अद्यतन लिंक" पर भी है!
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
--
आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज रविवार (16-02-2014) को वही वो हैं वही हम हैं...रविवारीय चर्चा मंच....चर्चा अंक:1525 में "अद्यतन लिंक" पर भी है!
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Virendra Kumar Sharma said...

एक से बढ़के एक हाइकु /हाइगा सुन्दर ,अतिसुन्दर सरस मनभावन ,लोकलुभावन

sunita agarwal said...

haiku to khubsurat hai hi aane use jo swaar kr haiga bana diya usme char chand lag gaye sabhi rachna karo ko badhayi evam aako bhi shubhkamnaye