1125 HAIGAS PUBLISHED TILL TODAY(04.09.15)......आज तक(04.09.15) 1125 हाइगा प्रकाशित Myspace Scrolling Text Creator

यदि आप अपने हाइकुओं को हाइगा के रूप में देखना चाहते हैं तो हाइकु ससम्मान आमंत्रित हैं|

रचनाएँ hrita.sm@gmail.comपर भेजें - ऋता शेखर मधु

Thursday, 24 November 2011

प्रदूषण का कहर-हाइगा में

धरती से लेकर अंतरिक्ष तक कोई भी स्थान ऐसा नहीं जो प्रदूषण से त्रस्त न हो| इस प्रदूषण को देखते हैं हाइगा की नजर से-११ स्लाइड्स










सारे चित्र गूगल से साभार

17 comments:

रविकर said...

पाठक गण परनाम, सुन्दर प्रस्तुति बांचिये ||
घूमो सुबहो-शाम, उत्तम चर्चा मंच पर ||

शुक्रवारीय चर्चा-मंच ||

charchamanch.blogspot.com

दिगंबर नासवा said...

प्रदूषण की समस्या को हैगा के माध्यम से बाखूबी उतारा है आपने ...

Ravi Ranjan said...

आग्रह मेरा
अब भी तो सँभलो
स्वच्छ हो धरा|

हाइगा जो संदेश देना चाहता है उसमें वह पूर्णतः सफ़ल है|
सफ़ल प्रयास...सादर बधाई|

www.navincchaturvedi.blogspot.com said...

सुंदर हाइकु और सुंदर हाइगा, बधाई ऋता जी को

dilbag virk said...

बेहतरीन संदेशपरक हाइगा

अभिषेक मिश्र said...

अद्भुत !!!
शब्दों का सार्थक उपयोग.

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " said...

har haaigoo arthpoorn.

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " said...

har haaiga arthpoorn.

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') said...

बेहतर हैं
सन्देश देती हुई
सभी हाईगा


सादर बढाए...

Unknown said...

बेहतरीन संदेशपरक हाइगा

धीरेन्द्र सिंह भदौरिया said...

हाइगा का ये संदेश पूर्णरूप से सफल हो बधाई...
नई पोस्ट में आपका स्वागत है

Always Unlucky said...

this internet site , likewise I think the design has got fantastic features.

From everything is canvas

abhi said...

बहुत अच्छे हाईकू..

काश प्रदुषण फैलाने वाले और जिनकी जिम्मेदारी है नियंत्रण करने की, पढ़ ले ये सारे हाईकू..
वैसे बहुत जिम्मेदारियां तो हमारी भी हैं लेकिन फिर भी हम प्रदुषण फ़ैलाने से बाज नहीं आते....

SANDEEP PANWAR said...

अब तो हद ही हो गयी गयी है

अनुपमा पाठक said...

'कितना सहे
प्रदुषण की मार
रोया संसार'
यह क्रंदन सुनकर सचेत हों हम!
सुन्दर प्रस्तुति!

देवेन्द्र पाण्डेय said...

बेहतरीन..! प्रदुषण पर आधारित संपूर्ण पोस्ट लाज़वाब है।

सुनीता अग्रवाल "नेह" said...

sundar sandeshparak :)