1125 HAIGAS PUBLISHED TILL TODAY(04.09.15)......आज तक(04.09.15) 1125 हाइगा प्रकाशित Myspace Scrolling Text Creator

यदि आप अपने हाइकुओं को हाइगा के रूप में देखना चाहते हैं तो हाइकु ससम्मान आमंत्रित हैं|

रचनाएँ hindihaiga@gmail.com पर भेजें - ऋता शेखर मधु

Saturday, 10 November 2012

जगमग दीप जले - हाइगा में

जगमग दीप जलाएँ
अँधियारा दूर भगाएँ
ज्ञान प्रकाश फैलाएँ
रौशनी झिलमिलाएँ
चलो, दिवाली मनाएँ










सारे चित्र गूगल से साभार


14 comments:

रविकर said...

दीवट दीमक लील गई, रजनी घनघोर अमावस की ।

दामिनि दारुण दाप दिखा, ऋतु बीत गई अब पावस की ।

कीट पतंग बढे धरती, धरती नहिं पाँव, भगावस की ?

तेल नहीं घर आज रहा, फिर दीपक डारि जलावस की ??





चीन महीन जहीन दिखे जग छोर बहोर पटावत है ।

माल सड़ा सब ठेल रहा, अपना कचड़ा फिकवावत है ।

भारत हारत वार यहाँ अपनी भद भी पिटवावत है ।

झालर दीप खरीद करें, सब को वह माल सुहावत है । ।।

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

कल 11/11/2012 को आपकी यह बेहतरीन पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
धन्यवाद!

यादें....ashok saluja . said...

दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें!

Ramakant Singh said...

shubha dipawali

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि-
आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (11-11-2012) के चर्चा मंच-1060 (मुहब्बत का सूरज) पर भी होगी!
सूचनार्थ...!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि-
आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (11-11-2012) के चर्चा मंच-1060 (मुहब्बत का सूरज) पर भी होगी!
सूचनार्थ...!

ऋता शेखर मधु said...

@ यशवंत जी, शुक्रिया !!

@रविकर सर, आभार !!

@ शास्त्री सर, शुक्रिया !!

@ अशोक सलूजा सर, आपको भी दीपावली की शुभकामनाएँ !!

@ रमाकांत सर, शुभ दीपावली !!

Virendra Kumar Sharma said...

सम्प्रेषण लिए हैं हाइगु .बधाई दिवाली की .सशक्त

वन्दना said...

बहुत खूबसूरत प्रस्तुति
मन के सुन्दर दीप जलाओ******प्रेम रस मे भीग भीग जाओ******हर चेहरे पर नूर खिलाओ******किसी की मासूमियत बचाओ******प्रेम की इक अलख जगाओ******बस यूँ सब दीवाली मनाओ

वन्दना said...

बहुत खूबसूरत प्रस्तुति
मन के सुन्दर दीप जलाओ******प्रेम रस मे भीग भीग जाओ******हर चेहरे पर नूर खिलाओ******किसी की मासूमियत बचाओ******प्रेम की इक अलख जगाओ******बस यूँ सब दीवाली मनाओ

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत सुंदर हाइगा ...


दीपावली की शुभकामनायें

ग्रीटिंग देखने के लिए कलिक करें |

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार said...




ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
♥~*~दीपावली की मंगलकामनाएं !~*~♥
ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
सरस्वती आशीष दें , गणपति दें वरदान
लक्ष्मी बरसाएं कृपा, मिले स्नेह सम्मान

**♥**♥**♥**● राजेन्द्र स्वर्णकार● **♥**♥**♥**
ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ

Kailash Sharma said...

बहुत सुंदर...आपको सपरिवार दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं!

अरुण कुमार निगम (mitanigoth2.blogspot.com) said...

***********************************************
धन वैभव दें लक्ष्मी , सरस्वती दें ज्ञान ।
गणपति जी संकट हरें,मिले नेह सम्मान ।।
***********************************************
दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं
***********************************************
अरुण कुमार निगम एवं निगम परिवार
***********************************************