1125 HAIGAS PUBLISHED TILL TODAY(04.09.15)......आज तक(04.09.15) 1125 हाइगा प्रकाशित Myspace Scrolling Text Creator

यदि आप अपने हाइकुओं को हाइगा के रूप में देखना चाहते हैं तो हाइकु ससम्मान आमंत्रित हैं|

रचनाएँ hrita.sm@gmail.comपर भेजें - ऋता शेखर मधु

Monday, 19 November 2012

बेचैन आत्मा - हाइगा में

देवेन्द्र पाण्डेय जी द्वारा खींचे गए चित्र- हाइगा में
-परिचय-





सारे चित्र देवेन्द्र पाण्डेय जी के ब्लॉग से साभार
अगली पोस्टिंग में मनु त्यागी जी के चित्र

12 comments:

देवेन्द्र पाण्डेय said...

आपने तो इन चित्रों में जान डाल दिया! बधाई दूँ या आभार व्यक्त करूँ समझ नहीं पा रहा!!

ANULATA RAJ NAIR said...

इसे कहते हैं सोने पे सुहागा....
बधाई ऋता जी...आपको एवं देवेन्द्र जी को भी.
सस्नेह
अनु

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

वाह ....बहुत सुंदर

ब्लॉग बुलेटिन said...

राकेट के अविष्कारक - शेर - ए - मैसूर टीपू सुल्तान - ब्लॉग बुलेटिन आज की ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

Archana Chaoji said...

बहुत सुन्दर...देवेन्द्र जी की बात से सहमत ..जान आ गई चित्रों में ..
@ देवेन्द्र जी पहले बधाई दीजिए कि इतना अच्छा काम किया ...फ़िर आभार व्यक्त कीजिये की आपके चित्रों को लेकर काम किया .... :-)

संतोष त्रिवेदी said...

जय हो..!

Anupama Tripathi said...

बहुत सुंदर प्रस्तुति ....

धीरेन्द्र सिंह भदौरिया said...

आपने तो पाण्डेय जी के चित्रों में जान ही दाल दी,,,

बधाई ऋतू जी,,,

मुकेश कुमार सिन्हा said...

bolte chitron par
bolti rachna...:)

देवेन्द्र पाण्डेय said...

सही कहा अर्चना जी। मुझ पर आपकी कृपा तो पहले से थी अब मधु जी की भी हो गई है। ..बधाई फिर आभार।

virendra sharma said...

बेशक तस्वीर बोलती है लेकिन हाइगु उसकी व्याख्या है विस्तार है चित्र अनुकूल भाव पूर्ण काव्य सौन्दर्य से संसिक्त रहे सभी हाइगु आपका आना ब्लॉग पे टिपियाना अच्छा लगा .कुछ अनच मिली और

अच्छा करने की ब्लोगिंग में ,शुक्रिया .

दिगंबर नासवा said...

सुन्दर जुगल-बंदी ...
सोने पे सुहागा ... सभी हाइगा ...