1125 HAIGAS PUBLISHED TILL TODAY(04.09.15)......आज तक(04.09.15) 1125 हाइगा प्रकाशित Myspace Scrolling Text Creator

यदि आप अपने हाइकुओं को हाइगा के रूप में देखना चाहते हैं तो हाइकु ससम्मान आमंत्रित हैं|

रचनाएँ hrita.sm@gmail.comपर भेजें - ऋता शेखर मधु

Monday, 26 September 2011

उफ़! ये गर्मी


डॉ रमा द्विवेदी जी के हाइकुओं पर आधारित हाइगा ;
अगली प्रस्तुति में; - डॉ भावना कुँअर जी










                     सारे चित्र गूगल से साभार

10 comments:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' said...

आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल मंगलवार के चर्चा मंच पर भी की गई है! आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

Ravi Ranjan said...

आपके हाइगा दिल की गहराइयों तक उतर जाते हैं..जो संवाद देना चाहती हैं, हाइगा उसमें सफल रहता है|आप उत्कृष्ट हाइकुकारों के हाइकु पर सजीवता भरे उत्कृष्ट हाइगा बनाती हैं, यह देखकर मन अभिभूत हो जाता है... शुभकामनाएँ

रविकर said...

बधाई ||
खूबसूरत प्रस्तुति ||

ऋता शेखर 'मधु' said...

इमेल पर अमिता कौंडल जी की टिप्पणी

ॠता जी, रमा जी के हाइकु को आपने जीवंत कर दिया.बहुत ही सुंदर हईगा हैं बधाई
सादर,
अमिता कौंडल

Rachana said...

rama ji ke haiku aur aapki tasvir ek ek shbd bolne lage hain badhai
rachana

त्रिवेणी said...

रमा जी के हाइकु ...आपके हाइगा बहुत ही सुंदर हैं !
शुभकामनाएँ !

Urmi said...

बहुत बढ़िया लगा! बेहतरीन प्रस्तुती!
मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है-
http://seawave-babli.blogspot.com/
http://ek-jhalak-urmi-ki-kavitayen.blogspot.com/

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') said...

bahut sundar haiku rachnaayen...
sadar..

Anonymous said...

डा. रमा द्विवेदी

ऋता जी ,
आपने मेरे हाइकुओ में जान फूँक दी है ......हरा एक हाइकु को ख़ूबसूरत चित्र से सजा कर हर शब्द को जीवंत बना दिया है ...सच में आप तो इस कला में बहुत निपुण है ....आपके इस सार्थक कार्य के लिए बहुत -बहुत हार्दिक आभार एवं शुभकामनाएं

Rama said...

डा. रमा द्विवेदी


आपने मेरे हाइकुओ में जान फूँक दी है ......हरा एक हाइकु को ख़ूबसूरत चित्र से सजा कर हर शब्द को जीवंत बना दिया है ...सच में आप तो इस कला में बहुत निपुण है ....आपके इस सार्थक कार्य के लिए बहुत -बहुत हार्दिक आभार एवं शुभकामनाएं